होम क्वारंटाईन वायरस के संक्रमण के फैलाव को रोकने के लिए ही किया जाता है होम क्वारंटाईन:बराड़ - Discovery Times (Maharashtra)

Breaking

Ad

Post Top Ad

Responsive Ads Here

होम क्वारंटाईन वायरस के संक्रमण के फैलाव को रोकने के लिए ही किया जाता है होम क्वारंटाईन:बराड़

 

कुरुक्षेत्र 24 अप्रैल:उपायुक्त शरणदीप कौर बराड़ ने कहा कि कोरोना वायरस के संक्रमण के फैलाव को रोकने के लिए ही पाजिटिव व्यक्ति या उसके सम्पर्क में आने वाले व्यक्ति को होम क्वारंटाईन किया जाता है। इसलिए होम क्वांरटाईन व्यक्ति से जरा सी भी घबराने की जरुरत नहीं है, घर में सिर्फ कुछ सावधानियों को अपनाकर इस वायरस के संक्रमण को खत्म किया जा सकता है।

उपायुक्त शरणदीप कौर बराड़ ने बातचीत करते हुए कहा कि पाजिटिव व्यक्ति या उसके सम्पर्क में आने वाले व्यक्ति को 14 दिनों के लिए घर में ही क्वांरटाईन किया जाता है। इसके लिए कुछ सावधानियां बरतने की जरुरत है और जरा सा भी घबराने की जरुरत नहीं है। डब्लयूएचओ की गाईडलाईंस के अनुसार कोरोना वायरस के संक्रमण के फैलाव को रोकने के लिए होम क्वारंटाईन किया जाता है। इस व्यक्ति को एक कमरे में रखा जाता है और होम क्वारंटाईन वाले व्यक्ति को हमेशा मास्क लगाकर रहना चाहिए, घर में बच्चों और बुजुर्गों और गर्भवती महिलाओं को होम क्वारंटाईन व्यक्ति के सम्पर्क में आने से बचना होगा।

उन्होंने कहा कि संक्रमित व्यक्ति को खाने से पहले बार-बार अपने हाथों को साबुन से धोना होगा और होम क्वारंटाईन वाले व्यक्ति के बर्तन और निजी सामान परिजनों से बिल्कुल अलग होना चाहिए, इस व्यक्ति को बीड़ी, सिगरेट और गुटखे का सेवन नहीं करना चाहिए, परिजनों को विशेष ध्यान देना होगा कि सम्बन्धित व्यक्ति के कमरे में परिवार का एक ही सदस्य जाए वह भी दूरी बनाकर रखे, परिवार का यह सदस्य कमरे से बाहर आने के बाद अच्छी तरह से अपने हाथों को 20 सैंकिंड तक साबुन से धोएं, परिवार का यह सदस्य भी कमरे में मास्क और गलब्स पहनकर जाए, अगर कोई व्यक्ति कमरे में जाता है तो उसे सम्बन्धित व्यक्ति से 6 फीट की दूरी बनाकर रखनी होगी।

उपायुक्त ने कहा कि होम क्वारंटाईन वाले व्यक्ति के लिए घर में अलग से शौचालय की व्यवस्था का प्रबंध किया जाना चाहिए और परिवार का कोई भी सदस्य सम्बन्धित व्यक्ति की किसी भी वस्तु को ना छुए, इतना ही नहीं सम्बन्धित व्यक्ति को अपने हाथों को बार-बार साबुन से धोना चाहिए तथा परिवार के सदस्यों को सम्बन्धित व्यक्ति के कमरे में बार-बार सम्पर्क में आने वाली वस्तुओं जैसे बिजली के स्वीच, दरवाजे के हैंडल आदि को बार-बार सेनिटाईज भी करना चाहिए। उन्होंने कहा कि होम क्वारंटाईन सिर्फ संक्रमण के फैलाव को रोकने का एक जरिया है, इसमें सभी को सहयोग करना चाहिए।

 

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

Ad