सामुहिक हमला करने, तोडफोड करने व जान से मारने की धमकी देने का चौथा आरोपी गिरफ्तार । - Discovery Times (Maharashtra)

Breaking

Ad

Post Top Ad

Responsive Ads Here

सामुहिक हमला करने, तोडफोड करने व जान से मारने की धमकी देने का चौथा आरोपी गिरफ्तार ।

 कुरुक्षेत्र 7 अप्रैल: जिला पुलिस कुरुक्षेत्र ने सामुहिक हमला करने, तोडफोड करने व जान से मारने की धमकी देने के चौथे आरोपी को किया गिरफ्तार । थाना बाबैन पुलिस ने सामुहिक हमला करने, तोडफोड करने व जान से मारने की धमकी देने के आरोप में दिनांक 23 फरवरी 2021 को प्रवीन कुमार पुत्र जय सिंह वासी बरगट, दिनांक 19 मार्च 2021 को संदीप उर्फ सोनू पुत्र जय सिंह वासी बरगट व अजय पुत्र रणजीत सिंह वासी मथाना को गिरफ्तार किया था। थाना बाबैन पुलिस ने दिनांक 06 अप्रैल 2021 को मामले के चौथे आरोपी राधे श्याम पुत्र जयकिशन वासी बरगट जट्टान को गिरफ्तार करने में सफलता हासिल की। यह जानकारी पुलिस प्रवक्ता रोशन लाल ने दी।


            जानकारी देते हुए पुलिस प्रवक्ता रोशन लाल ने बताया कि दिनांक 23 फरवरी 2021 को सुमन देवी पत्नी सुमन प्रकाश वासी बाबैन ने थाना बाबैन पुलिस को दी अपनी शिकायत में बताया कि दिनांक 22 फरवरी 2021 को वह घर पर अकेली थी। शाम के समय सोनु पुत्र जयसिंह वासी बरगट उसके घर के बाहर आकर उसके साथ गाली गलौच करने लग गया। वह घर के अन्दर चली गई। रात करीब 09 बजे प्रवीन कुमार 06/07 अन्य व्यक्तियों के साथ आया और वह उसके परिवार वालों के साथ गाली गलौच की। उसके बाद रात को 15/16 अन्य व्यक्ति पिकअप गाडी में आये और उसके घर का गेट तोड दिया। उसने व उसके परिवार वालों ने कमरे में छिप कर जान बचाई। उन्होंने घर का दरवाजा तोडने की कोशिश की। जान से मारने की धमकी देकर वह मौका से चले गये । जिसकी शिकायत पर थाना बाबैन में मामला दर्ज करके जांच हवलदार देवेन्द्र कुमार को सौंपी गई। हवलदार देवेन्द्र कुमार की टीम ने दिनांक 23 फरवरी 2021 को प्रवीन कुमार पुत्र जय सिंह वासी बरगट, दिनांक 19 मार्च 2021 को संदीप उर्फ सोनू पुत्र जय सिंह वासी बरगट व अजय पुत्र रणजीत सिंह वासी मथाना को गिरफ्तार किया था। तीनों आरोपियों को माननीय अदालत से जमानत पर रिहा किया गया था। थाना बाबैन के हवलदार देवेन्द्र कुमार ने दिनांक 06 अप्रैल 2021 को मामले के चौथे आरोपी राधे श्याम पुत्र जयकिशन वासी बरगट जट्टान को गिरफ्तार कर लिया। आरोपी को माननीय अदालत में पेश करके अदालत के आदेश से जमानत पर रिहा किया गया ।

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

Ad