प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के तहत नवम्बर तक मिलेगा नि:शुल्क गेंहू - Discovery Times (Maharashtra)

Breaking

Ad

Post Top Ad

Responsive Ads Here

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के तहत नवम्बर तक मिलेगा नि:शुल्क गेंहू

                                

कुरुक्षेत्र 31 जुलाई:कोरोना के संक्रमण के कारण पिछले वर्ष 26 मार्च 2020 को पूरे देश में लॉकडाउन लगाना पड़ा था और कोरोना की दूसरी लहर के मध्यनजर 3 मई 2021 से भी लॉकडाउन लगाना पड़ा। इन लॉकडाउन के कारण आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग के नागरिक, जिनमें सडक़-फुटपाथ पर रहने वाले, कूड़ा उठाने वाले, फेरी वाले, रिक्शा चालक, प्रवासी मजदूर आदि को खाने की समस्या का सामना न करना पड़े, इसको ध्यान में रखते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की गरीब हितैषी सोच के मद्देनजर अप्रैल 2020 से प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना शुरू की गई। इसमें एएवाई, बीपीएल व ओपीएच कार्ड धारकों को 5 किलोग्राम गेहूं प्रति सदस्य मुफ्त उपलब्ध कराया जा रहा है। यह नि:शुल्क राशन नम्बर 2021 तक उपलब्ध करवाया जाएगा।

सांसद नायब सिंह सैनी व विधायक सुभाष सुधा ने प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के तहत पात्र लोगों को राशन वितरित किया है। सासंद नायब सिंह सैनी व विधायक सुभाष सुधा द्वारा रतगल, लायलपुर बस्ती व मोहन नगर आदि क्षेत्रों में योजना के तहत पात्र लोगों को 5 किलो अनाज प्रति सदस्य प्रति माह के तहत वितरित किया गया है। सासंद नायब सिंह सैनी ने कहा कि इस साल फिर कोरोना के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना मई 2021 से पुन: आरंभ कर दी गई ताकि गरीब व्यक्ति भूखा न सोए, इस योजना की समयावधि को दिवाली तक बढ़ा दिया गया है, यानि मुफ्त राशन नवंबर 2021 तक मिलता रहेगा। हरियाणा सरकार द्वारा पहले से ही राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम 2013 के तहत एएवाई (गुलाबी कार्ड) बीपीएल (पीला कार्ड) व ओपीएच (खाकी कार्ड) धारकों को खाद्य, नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता मामले विभाग द्वारा आटा, बाजरा, चीनी, नमक, सरसों तेल उनकी पात्रता के अनुसार उपलब्ध करवाया जाता है। प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना के तहत इन श्रेणी के कार्ड धारकों को 5 किलोग्राम गेहूं प्रति सदस्य प्रति माह जो मुफ्त उपलब्ध करवाया जा रहा है

विधायक सुभाष सुधा ने कहा कि लॉकडाउन के कारण प्रदेश के लाखों गरीब परिवार न तो दिहाड़ी पर जा पाए और न ही छोटी-मोटी नौकरी कर पाए, जिसके कारण उनकी आजीविका भी प्रभावित हुई है। इसलिए सरकार द्वारा प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना के माध्यम से उनके घर-द्वार तक लगातार 5 किलो गेहूं प्रति सदस्य पहुंचाया जा रहा है। इस योजना के तहत जिलें में हजारों परिवारों को यह अनाज मुफ्त प्रदान किया जा रहा है। यह अनाज पूर्व में चल रही प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के तहत राशन कार्ड पर मिलने वाले तय कोटे के अतिरिक्त वितरित किया गया। कोरोना सकंट के बीच सरकार ने इस योजना के तहत गरीब परिवारों को बड़ी राहत दी है। उससे गरीब तबके के लोगों को बहुत राहत मिली है। कोरोना काल में हरियाणा सरकार गरीबों की हमदर्द बनकर काम कर रही है।


कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

Ad