एलईडी वैन के माध्यम से दर्शाया जा रहे है कुरुक्षेत्र का ऐतिहासिक महत्व 21 दिसम्बर तक निरंतर जारी रहेगा एलईडी वैन का कार्यक्रम - Discovery Times (Maharashtra)

Breaking

Ad

Post Top Ad

Responsive Ads Here

एलईडी वैन के माध्यम से दर्शाया जा रहे है कुरुक्षेत्र का ऐतिहासिक महत्व 21 दिसम्बर तक निरंतर जारी रहेगा एलईडी वैन का कार्यक्रम

कुरुक्षेत्र 16 दिसम्बर (अनिल धीमान):उपायुक्त शरणदीप कौर बराड़ ने कहा कि अंतरराष्ट्रीय गीता महोत्सव 2020 की जानकारियों और कुरुक्षेत्र के महत्व पर प्रकाश डालने के लिए 48 कोस के 134 तीर्थों पर प्रशासन की तरफ से विशेष एलईडी वैन भेजी गई है। इसके अलावा 48 कोस के तीर्थों के महत्व और इतिहास की जानकारी आमजन तक पहुंचाने के लिए पहली बार छोटीे-छोटी वीडियो की आईटी टीम द्वारा साईट पर अपलोड की जा रही है। इन वीडियो के जरिए आमजन को यह जानकारी मिलेगी की कुरुक्षेत्र का ऐतिहासिक महत्व है और यहां की एक अलग सांस्कृतिक विरासत है।

उपायुक्त शरणदीप कौर बराड़ ने बातचीत करते हुए कहा 48 कोस के 134 तीर्थों पर एलईडी वैन का का शैडयूल के अनुसार यह वैन कुरुक्षेत्र से जींद वाया कैथल व कुरुक्षेत्र से जींद वाया करनाल के तीर्थों से होकर गुजर रही है। इस शैडयूल के अनुसार यह वैन 14 दिसम्बर को कुरुक्षेत्र से जींद वाया कैथल रुट पर गीता स्थली ज्योतिसर, काम्यक तीर्थ कमोदा, भूरिश्रवा तीर्थ भौर सैंयदा, मणिपूरक तीर्थ मुर्तजापुर, शालिहोत्र तीर्थ सारसा, सरस्वती तीर्थ पिहोवा, प्राची तीर्थ पिहोवा, अरुणाय तीर्थ अरुणाय पिहोवा में पहुंची। इसी प्रकार 15 दिसम्बर को इस एलईडी वैन ने ब्रहायोनी तीर्थ पिहोवा, पृथुदक तीर्थ पिहोवा, सप्तसारस्वत तीर्थ मांगणा, सोम तीर्थ गुमथला गढू, ब्रहमा तीर्थ थाना, नैमिष तीर्थ नौच, वेदवती तीर्थ बलवंती, कोटिकूट तीर्थ क्योडक, 16 दिसम्बर को फल्गू तीर्थ फरल, पुंडरीक तीर्थ पूंडरी, ऋणमोचन तीर्थ रसीना, लवकुश तीर्थ मुंदड़ी, कुकृत्यानाशन तीर्थ काकौत, अन्यजन्मा तीर्थ डयोडाखेड़ी में कार्यक्रमों की प्रस्तुती दी है।

उन्होंने कहा कि यह एलईडी वैन 17 दिसम्बर को नव दुर्गा तीर्थ देवीगढ़, हव्य तीर्थ भाणा, काव्य तीर्थ करोड़ा, सरक तीर्थ शेरगढ़, कपिल मुनि तीर्थ कलायत, 18 दिसम्बर को श्री तीर्थ कसान, रसमंगल तीर्थ जखोली, चक्र तीर्थ सेरधा, मुकुटेश्वरी तीर्थ मटोर, खटवांगेश्वर तीर्थ खडालवा, 19 दिसम्बर को लोकोद्वार तीर्थ लोधर जींद, कायाशोधन तीर्थ कसूहन, वंशमूलक तीर्थ बरसोला जींद, भूतेश्वर तीर्थ रानी तालाब जींद, 20 दिसम्बर को एकहंस तीर्थ इक्कस जींद, रामह्द तीर्थ रामराय, पुष्कर तीर्थ पोखरखेड़ी, 21 दिसम्बर को सोम तीर्थ पांडू पिंडारा, वराह तीर्थ वराहकलां, अश्विनी कुमार तीर्थ आसन में 48 कोस के इतिहास को वीडियो क्लीप्स के माध्यम से आमजन को दिखाने का काम करेंगी।

उन्होंने कहा कि दूसरे रुट कुरुक्षेत्र से जींद वाया करनाल पर जाने वाली एलईडी वैन ने 14 दिसम्बर को ब्रहमसरोवर, सन्निहित सरोवर, स्थानेश्वर महादेव मंदिर, भद्रकाली मंदिर, रंतुक यक्ष तीर्थ पिपली, अदिती तीर्थ अमीन, 15 दिसम्बर को नाभी कमल तीर्थ थानेसर, भीष्म कुंड तीर्थ नरकातारी, आपगा तीर्थ मिर्जापुर, बाण गंगा दयालपुर, कुलतारण तीर्थ किरमच, 16 दिसम्बर को पराशर तीर्थ बहलोलपुर वाया करनाल, विमलसर तीर्थ सग्गा, वेदवती तीर्थ सीतामाई, व्यास स्थली बस्थली, त्रिगुणानंद तीर्थ गुनियाना में कार्यक्रम दिए है। इसी प्रकार यह एलईडी वैन 17 दिसम्बर को मिश्रक तीर्थ निसंग, दक्षेश्वर तीर्थ डाचर, दशरथ तीर्थ ओंगद, गवेन्द्र तीर्थ गोंदर, 18 दिसम्बर को जमदग्नि तीर्थ जलमाणा, चुच्चुकारण्डव तीर्थ चोरकारसा, पावन तीर्थ उपलाना, जम्बूनद तीर्थ जबोला, 19 दिसम्बर को फल्गू तीर्थ फफड़ाना, ब्रह्मïा तीर्थ रसालवा, दशाश्वमेघ तीर्थ सालवन, कोटि तीर्थ कुरलन, 20 दिसम्बर को पंचदेव तीर्थ पाढ़ा, धनक्षेत्र तीर्थ असंध, हंसराज तीर्थ सर्पदधि तीर्थ सफीदों, सर्पदमन तीर्थ सफीदों, 21 दिसम्बर मचक्रुक यक्ष सींख पाथरी, हाटकेश्वर तीर्थ जींद, ययाति तीर्थ कालावा, जमदग्नि तीर्थ जामनी जींद में कार्यक्रम को दिखाएंगी।

 

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

Ad