कुरुक्षेत्र में 9 सडक़ों को मॉडल रोड़ स्ट्रच के रुप में विकसित करने का प्रस्ताव : मुकुल - Discovery Times (Maharashtra)

Breaking

Ad

Post Top Ad

Responsive Ads Here

कुरुक्षेत्र में 9 सडक़ों को मॉडल रोड़ स्ट्रच के रुप में विकसित करने का प्रस्ताव : मुकुल

                                  

कुरुक्षेत्र 31 जुलाई: उपायुक्त मुकुल कुमार ने कहा कि कुरुक्षेत्र में 9 सडक़ों को मॉडल रोड़ स्ट्रच के रुप में विकसित करने का प्रस्ताव तैयार किया गया है। इस प्रस्ताव को संबधित विभाग द्वारा अंतिम अनुमति के लिए राज्य सरकार के पास भेजा है। इस जिले में मॉडल रोड़ स्ट्रच के लिए सडक़ों को चिन्हित करने के लिए लोक निर्माण विभाग व मार्किटिंग बोर्ड के अधिकारियों को जिम्मेवारी सौंपी गई है। इस मॉडल रोड़ स्ट्रच पर सडक़ सुरक्षा से सम्बन्धित सभी मापदंडों को पूरा किया जाएगा।


उपायुक्त मुकुल कुमार ने कुरुक्षेत्र में मॉडल रोड़ स्ट्रच के प्रस्ताव तैयार करने के लिए लोक निर्माण विभाग व मार्किटिंग बोर्ड के अधिकारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश दिए है। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने घोषणा की है कि प्रदेश के हर जिले में लगभग 5 किलोमीटर के मॉडल रोड़ स्ट्रच का निर्माण किया जाना है। मुख्यमंत्री के इन आदेशों के बाद कुरुक्षेत्र में भारतीय राष्टï्रीय राजमार्ग प्राधिकरण, लोक निर्माण विभाग भवन एवं सडक़े, मार्किटिंग बोर्ड, नगर निकाय और हुडा के अधिकारियों को निर्देश दिए गए थे। इन विभागों ने  कुरुक्षेत्र में मॉडल रोड़ स्ट्रच के लिए प्रस्ताव तैयार किया है।

कुरुक्षेत्र में 9 सडक़ों को मॉडल रोड़ स्ट्रच के रुप में विकसित करने का प्रस्ताव
 भेजा सरकार के पास उपायुक्त मुकुल कुमार ने लोक निर्माण विभाग व मार्किटिंग
 बोर्ड ने तैयार किया प्रपोजल, चिन्हित सडक़ पर करीब 5 किलोमीटर के बनाए जाएंगे 
मॉडल रोड़ स्ट्रच


उन्होंने कहा कि लोक निर्माण विभाग के अधिकारियों ने जीटी रोड़ से उमरी तक, जीटी रोड़ से अकालगढ़, शाहबाद लाड़वा रोड़, बाबैन से अकालगढ़, जीटी रोड़ से मदनपुर, झांसा रोड़, अजरानाकलां, थर्ड गेट से पिपली तक तथा मार्किटिंग बोडऱ् की तरफ से मिर्जापुर से दयालपुर तक सडक़ को माडल रोड़ स्ट्रैच बनाने का प्रस्ताव सरकार के पास भेजा है। इस प्रस्ताव में जिन सडक़ों पर सरकार की मोहर लगेंगी, उस सडक़ को माडल सडक़ बनाने की योजना को अमलीजामा पहनाने का काम किया जाएगा। इसके लिए विभाग की तरफ से अनुमानित लागत का भी प्रपोजल तैयार किया गया है। इन सडक़ों को सडक़ सुरक्षा नीति के तहत तैयार किया जाएगा।


कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

Ad